15 साल के रोहित नाम

बिहार के गोपालगंज जिले में 6 मजहबी उन्मादियों ने एक हिन्दू बच्चे को मस्जिद के अन्दर मौत के घाट उतारा है, 15 साल के हिन्दू बच्चे को मौत के घाट उतरने में मुस्लिल्म बच्चों की भी मदद ली गयीमामला गोपालगंज जिले के कटेया के बेलाडीह इलाके का है जहाँ पर एक मस्जिद बनाई गयी है, स्थानीय मुसलमानों ने प्लान बनाया की अगर किसी हिन्दू की बलि दी जाये तो मस्जिद ताकतवर हो जायेगा, मस्जिद में रूहानी ताकत आ जाएगीइसके लिए मुस्लमान बच्चों को एक हिन्दू बच्चे को फंसाकर मस्जिद लाने का प्लान बनाया गया, कुछ मुसलमान बच्चे 15 साल के रोहित नाम के हिन्दू बच्चे के पास आये और उसे क्रिकेट खेलने के बहाने साथ ले गएरोहित के पिता राजेश जयसवाल ने बताया की – मस्जिद के अन्दर 6 मुसलमान पहले से इंतज़ार कर रहे थे, मुस्लिम बच्चे मेरे बेटे रोहित को लेकर गए और फिर मस्जिद के अन्दर रोहित को 6 मुसलमानों ने मौत के घाट उतार दिया, इसके बाद उसके शव को पत्थर से बांधकर नदी में फेंक दिया

सुनिए बच्चे के पिता राजेश पुरे घटनाक्रम को बता रहे हैराजेश ये भी बता रहे है की – स्थानीय पुलिस से जब उन्होंने अपने बेटे की हत्या की शिकायत की तो पुलिस वालो ने उनके परिवार को गन्दी गन्दी गाली देकर भगा दिया और अब पुलिस वाले पैसा लेकर चुप हो जाने को कह रहे हैये जानकारी भी सामने आई है की पुलिस और स्थानीय मुसलमानों के खौफ से राजेश का परिवार बिहार का गोपालगंज छोड़कर उत्तर प्रदेश में शरण लेने के लिए जा चूका हैमृतक रोहित की बहन क्या कह रही है वो सुनिएमजहबी बहुल इलाकों की स्तिथि क्या है इसका अंदाजा आप इस घटना से लगा सकते है, सेक्युलर प्रशासन भी किस तरह हिन्दू परिवार को प्रताड़ित करता है ये घटना भी उसका एक बड़ा उदाहरण है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here